अपने एंड्रॉयड को बनाइए स्मार्ट: ये 14 टिप्स यूज कीजिए

नई दिल्ली। आपके एंड्रायड फोन में काफी सारे फीचर होंगे, पर अगर आपको इसके अलावा कुछ और तरीके पता चल जाएं, जिनसे आपका एंड्रायड मोबाइल फोन और बेहतर परफॉर्म करने लगे तो? चलिए आज आपको कुछ और फ्री एप बताते है जिन्हें अपनाकर आप अपने एंड्रायड डिवाइस को पहले से भी ज्यादा कमाल का बना सकते हैं:

इमेज गैलरी
आपके फोन में उपलब्ध इमेज गैलरी एप सिर्फ तस्वीरें देखने के काम आता है। जबकि यहां कुछ थर्ड पार्टी एप्स है जो और भी बहुत कुछ ऑफर करते हैं। इसके लिए आप क्विक पिक का प्रयोग कर सकते हैं। ये तेज है, मल्टीपल व्यू ऑप्शन देता है (स्टेक्स, ग्रिड, लिस्ट्स), कलर थीम्स, क्लाउड स्टोरेज सपोर्ट, वाइ-फाइ ट्रांसफर, पासवर्ड लॉक सिक्योर्ड फोल्डर्स और बिल्ट इन एडिटर भी देता है।आप फ्री सियानोजेन गैलरी एप का भी प्रयोग कर सकते है जो आपको लोकल के साथ –साथ क्लाउड पर आधारित फोटोज और वीडियोज मैनेज करने की सुविधा देता है। ये अपने आप फोटो को स्मार्ट फोल्डर में लोकेशन/डेट मेटाडाटा का इस्तेमाल करते हुए डाल देता है

ईमेल
सामान्यत: जीमेल एप और अन्य एप पहले से ही डिवाइस में लोड होते है। इस डिफाल्ट एप की बहुत बढ़िया रिप्लेसमेंट है एक फ्री एप जिसे क्लाउडमैजिक कहा जाता है। ये आपको 5 अकाउंट एड करने की सुविधा देता है और हर प्रकार के ईमेल प्रोवाइडर को सपोर्ट करता है (जीमेल, आउटलुक, एक्सचेंज, आइमैप, आइक्लाउड, गूगल एप्स इत्यादि) ये संगठित इनबॉक्स, पासवर्ड लॉक, पुश नोटिफिकेशन्स, कस्टम फोल्डर सिंक और आपको क्लाउड से फाइल्स अटैच करने की सुविधा देता है। 
अगर आप सिर्फ जीमेल का रिप्लेसमेंट चाहते हैं तो फ्री मेलबॉक्स एप को ट्राई कर सकते हैं और अगर आप अपने फोन पर एक बढ़िया संगठित इमेल एप चाहते है, तो माई मेल एप ट्राई कीजिए (माई.कॉम बी वी द्वारा)। ये इस्तेमाल के लिए एकदम फ्री है और सभी मेजर इमेल प्रोवाइडर को सपोर्ट करता है (जीमेल, याहू, होटमेल, एक्सचेंज, लाइव, आइक्लाउड+आएमएपी एंड पीओपी3)। इमेल और एसएमएस की सिंपल शेड्यूल के लिए आप आरसीएम एप के मैसेज और इमेल शेड्यूलर को ट्राई कर सकते हैं।

कैलेंडर
एंड्रायड पर गूगल कैलेंडर एप को लेकर कोई शिकायत नहीं मिलती, फिर भी यदि आप चाहते है कि कोई अच्छा दिखने वाला एप एडिशनल फीचर के साथ मिल जाए तो इसके लिए आप फ्री सोल कैलेंडर का प्रयोग कर सकते हैं। सोल कैलेंडर आपको उन अन्य कैलेंडरों के साथ जोड़ता है जो आप इस्तेमाल कर रहे होते हैं (गूगूल, याहू, आइ क्लाउड एक्सचेंज) और महीने और उनके हाईलाइट को आसान व समझ आने वाले तरीके से दिखाता है। आप क्विक लुक का प्रयोग मौसम का हाल, पुनरावर्ती अलार्म, अपने रोजमर्रा के अजेंडा को देखने के लिए कर सकते हैं।


कैमरा
प्रत्येक फोन निर्माता कैमरा एप विभिन्न फीचर और इंटरफेस के साथ बनाता है। वैसे तो गूगल अपना खुद का कैमरा एप फ्री में प्ले स्टोर से डाउनलोड करने की इजाजत देता है, ताकि कोई भी इस्तेमाल कर सकें।जबकि इसका एक बेसिक इंटरफेस है और ये फोटोजफेयर, 360- डिग्री पेनोरमा और इमेज को कैप्चर करने जैसे फीचर उपलब्ध कराता है और इन इमेजिस को वीडियों रिकॉर्डिंग के दौरान भी कैप्चर करने का विकल्प देता है। इसमें एक और फायदेमंद लेंस ब्लर फीचर भी है। 
यदि आप एक ऐसा एप देख रहे है जो इफेक्ट्स, एडिटिंग, मैन्युअल कंट्रोल और फील्टर करें, तो इसके लिए कैमरा 360 को ट्राई कर सकते है।

नोट्स
नोट्स के लिए हम एवरनोट को रिकमंड करेंगे। इसके द्वारा आप केवल एप में नोट नही क्रिएट कर सकते बल्कि उन्हें आसानी से नोटबुक्स में आर्गेनाइज कर सकते हैं, नोटबुक शेयर कर सकते हैं। सबसे बढ़िया बात है कि आप विभिन्न प्रकार के नोट्स टू डू लिस्ट से तैयार कर सकते हैं, आप चाहे तो नोट्स के क्विक रेफरेंस के लिए मल्टिमीडिया फाइल को जोड़ सकते है।

कॉन्टेक्ट्स
यहां दो कनेक्टिड कॉन्टेक्ट एप्स है जिन्हें आप ट्राई कर सकते हैं: 6 डिग्री और एडाप्ट।
ये दोनों अलग तरीके से काम करते हैं। एडाप्ट आपके कॉन्टेक्ट की जानकारी को अन्य एडाप्ट प्रयोगकर्ताओं के साथ सिंक करता है। कोई भी बदलाव जो आप अपनी कॉन्टेक्ट डिटेल्स में करते है, अपनेआप अन्य कॉन्टेक्ट्स में अपडेट हो जाता है। 6 डिग्री भी यही काम करता है और साथ ही कॉमन कॉन्टेक्टस के द्वारा खोजने का काम भी करता है।

डाइलर
बेसिक फोन डाइलर नंबर डायल करने के अलावा कुछ नहीं करता। फ्री ट्रू डायलर (ट्रू कॉलर द्वारा) डिफॉल्ट कॉन्टेक्ट्स और डायलर को रिप्लेस करता है और आपको जल्दी से फोनबुक के बाहर के नंबर भी सर्च करके दिखा देता है क्योंकि ये ट्रू कॉलर के ऑनलाइन डाटाबेस से संघटित होता है।

कीबोर्ड
हो सकता है कि आपको लगता हो कि आपके एंड्रायड का डिफॉल्ट की –बोर्ड बहुत ग्रेट है पर शायद ही ये कुछ और भी मदद कर सकें। 'स्विफ्ट की' आपको 70 थीम्स देता है, कीबोर्ड के साइज को एडजेस्टेबल बनाता है और पूर्वानुमानों को पर्सनालाइज करता है।

फाइल मैनेजर
यद्दपि आपके पास एंड्रायड में बेसिक फाइल एक्सप्लोरअर है, इएस फाइल एक्सप्लोरअर फिर भी बहुत कारगर है और सिंपल सा फायदा देता है क्योंकि ये बहुत सारे फंक्शन्स को लाइटवेट एप के अन्दर समाहित करता है। सामान्य तौर पर कट, कॉपी, पेस्ट फंक्शन्स से अलग ये इंस्टॉल्ड एप्स को भी मैनेज करता है।

मैसेजिंग
अगर आप स्टैंडर्ड एसएमएस एप से बोर हो चुके है तो टैक्स्ट्रा को ट्राई कीजिए। इसमें बहुत सारे फीचर मिलेंगे, साथ ही ये देखने में भी कमाल का लगता है। अगर आपके फोन में ब्लैकलिस्ट ऑप्शन नही है और आप स्पैम मैसेजेस से उकता चुके है तो एसएमएस ब्लॉकर क्लीन इनबॉक्स का प्रयोग करें। इसे अपने डिफॉल्ट एसएमएस एप के साथ सेट करें और तब ये अपनेआप सारे स्पैम मैसेज को फिल्टर कर देगा। अन्य एसएमएस एप के तौर पर आप टी बॉक्स, कॉम्स एसएमएस एप का यूज कर सकते हैं। इनके द्वारा आप एसएमएस शेड्यूलअर, ब्लैकलिस्टिंग, बैटर ग्रुप एसएमएस फीचर और फ्री थीम्स को लोड कर सकते हैं।

स्कैनर और पीडीएफ मेकर
हर नये लांच के साथ स्मार्टफोन के कैमरा बेहतर होते जा रहे हैं। वैसे तो आपको सच में किसी स्कैनर की जरूरत नहीं जब तक की बहुत हाई क्वालिटी के रिजल्ट न मिल सकते हो। हाई क्वालिटी के लिए सबसे लोकप्रिय फ्री एप कैम स्कैनर डाउनलोड कर सकते है, ये एक डॉक्यूमेंट की फोटो कैप्चर करने में मदद करता है, इसे क्लीन करके एक पीडीएफ फाइल में सेव करता है। ये स्कैन पर एक वाटर मार्क बनाता है।

कॉल रिकॉर्डर
बहुत बार ये देखा गया है कि कॉल रिकॉडर में या तो आपकी आवाज रिकॉर्ड हो पाती है या कॉलर की। कॉल रिकॉर्डिंग के काम के लिए दोनों आवाजें स्पष्ट तरह से रिकॉर्ड होनी चाहिए। इसके लिए आरएमसी एंड्रायड जैसे एप का यूज कर सकते है।

लैंग्वेंज ट्रांसलेटर
गूगल की ट्रांसलेशन सर्विस आप्शन को बहुत लोग प्रयोग करते हैं, पर आप जानते है इसके लिए ये आपकी डिवाइस की पूरी भाषाई लाइब्रेरी को डाउनलोड करता है? लेकिन अब आप घर बैठे जो ट्रांसलेट करना चाहते है उसका चयन कर सकते है और उसे डाउनलोड कर सकते हैं फिर उन्हीं ट्रांसलेशन को ऑफलाइन डिवाइस के साथ ट्रांसलेट कर सकते है। ध्यान रहें ये केवल टेक्स्ट ट्रांसलेशन पर अप्लाई होता है आपको टेक्स्ट टाइप करने की जरुरत पड़ती है।

लांचर एन्हैन्स्मन्ट
पूरी तरह लुक चेंज करने और डिवाइस को नया फील कराने के लिए एक नया लांचर ऐसा आसान तरीका है जिससे आप डिवाइस का लुक पूरी तरह चेंज करके उसे नया फील दे सकते हैं। यद्दपि आप अपने डिफॉल्ट लांचर को पसंद करते है और बस उसमें ही कुछ और फीचर डालना चाहते है बजाएं उसे बदलने के, तो एक फ्री एप जिसे लेज़ी स्वाइप कहा जाता है ट्राई कीजिए। ये अपने आप देखता है कि आप सबसे ज्यादा क्या इस्तेमाल कर रहे है और उन्हें तरीके से एनिमेटिड रेडिअल मेन्यू की तरह रख देता है जो आप आसानी से स्वाइप करके एक्सेस कर सकते है स्क्रीन के लोअर लेफ्ट या राइट कॉर्नर को। बोनस के तौर पर ये मदद करता है बड़ी स्क्रीन फोन्स को सिर्फ एक अंगूठे की मदद से नेविगेट करने की सुविधा देता है।


Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.