इंग्लिश सीखने के मजेदार तरीके

आज के दौर में इंग्लिश लैंग्वेज की जानकारी नहीं हो तो अच्छी नौकरी मिलना मुश्किल है. कई बार तो ऐसा भी होता होगा कि इंग्लिश बोलने के डर से आप पार्टियों में जाने का प्रोग्राम तक कैंसिल कर देते होंगे. वजह, कहीं आपको इंसल्ट फेस न करना पड़ें. लेकिन अगर आप इंग्लिश को लेकर अपने मन में ऐसा ही डर बनाकर रखेंगे तो कभी इंग्लिश नहीं सीख पाएंगे. आइए जाने कुछ ऐसे तरीके हैं जिनसे आप इंगलिश को बड़ी ही आसानी से सीख सकते हैं.

इंगलिश में सोचना शुरू करें
जो आप सोचते हैं वो आपके वर्ड बन जाते हैं इसलिए इंग्लिश बोलने के लिए सबसे पहले इंग्लिश में सोचना शुरू कर दें.जर्मन और इंगलिश एक्सपर्ट प्रतिमा देसवाल का कहना है कि  सबसे पहले कॉंफिडेंट होकर इंगलिश बोलें चाहे आप गलत ही क्यों ना बोल रहे हों. धीरे-धीरे प्रैक्टिस से आप नए-नए वर्ड सीखेंगे और आपमें कॉंफिडेंट आएगा. लेकिन इसके लिए आपको बेसिक सीखने होंगे. क्योंकि थोड़ी जानकारी हमेशा नुकसानदायक होती है.

सही से प्रनन्सीएशन करें
जो भी इंगलिश में आप सुन रहे हों उसे ध्यान से उसका अर्थ समझते हुए सुनें. अगर किसी वर्ड को सही से नहीं बोल पा रहे हैं तो गूगल से उसका सही प्रनन्सीएशन चेक करके बोल सकते हैं. इसके लिए आप इसके ऑडियो बटन प्रैस करें.

जोर-जोर से पढ़ें
इंग्लिश सीखने का बेस्ट तरीका है डेली रूटीन में न्यूजपेपर शामिल करना. कोशिश करें अपने कमरे में रोजाना एक घंटे न्यूजपेपर और मैग्जीन जोर-जोर से पढ़ें.

रोज एक नया शब्द सीखें
एक शब्द रोज सीखें और इसको अलग-अलग तरह से बोलें. इस शब्द को जब तक बोलें जब तक कि आपको याद ना हो जाएं. हो सके तो एक डायरी बनाएं और डेली अपडेट करें.

इंगलिश क्लब ज्वाइन करें: 
इंगलिश सीखने का सबसे अच्छा तरीका है कोई ऐसा क्लास ज्वॉइन करना जहां आप अपना शौक पूरा करने के साथ इंग्लिश सीख लें. एक तीर से दो शिकार. कुकिंग का शौक है तो कोई कुकिंग कोर्स ज्वॉइन कर लें या कोई इंग्लिश क्लब ज्वॉइन कर ले जहां आप अपने शौक पूरा करने के साथ यह भाषा भी सीख सकेंगे.
डिक्शनरी यूज करें: अगर कभी पढ़ते हुए या किसी से बात करते हुए कोई नया शब्द सुनने में आए तो उसे तुरंत डिक्शनरी में खोजें. टालेंगे तो टलते ही जाएगा इसीलिए कोशिश करें जब भी कुछ नया सुने उसे ऑनलाइन डिक्शनरी में सर्च करें. ऐसा करने से आपकी वोकेबलरी तो मजबुत होगी ही साथ ही आप जल्द ही मास्टर हो जाएंगे.

दोस्त बनाएं जो इंगलिश बोलते हों: 
दोस्तों की जरूरत केवल मस्ती, घूमने और सिनेमा देखने के लिए नहीं होती. कभी-कभी ऐसे दोस्त बनाएं जो आपकी मदद कर सकें. अगर आप ऐसे दोस्त बनाएंगे जिनकी अंग्रेजी अच्छी है तो फायदा आपको ही होगा. अपने दोस्त से आप बेहिचक किसी वर्ड का मतलब पूछ सकेंगे, आखिर हर एक फ्रेंड जरूरी होता है.

शीशे में खुद से बाते करें:
सिर्फ इंग्लिश लैंग्वेज सीखना ही सबकुछ नहीं होता, उच्चारण भी बहुत मायने रखता है. अपने उच्चारण को परफेक्ट बनाना चाहते हैं तो रोजाना 1-2 घंटे शीशे में इंग्लिश बोलने की प्रैक्टिस करें. इससे आपका कॉन्फिडेंस को बढ़ेगा ही साथ ही आप दूसरों के सामने अच्छी अंग्रेजी बोलने में भी कामयाब होंगे.


Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.