आपकी त्वचा, बाल और दांतों की सारी प्रॉबलम्स का एक सॉल्यूशन

अच्छे बाल और त्वचा की चाहत सभी को होती है। परंतु उपाय समझ नहीं आते। तरह-तरह के तरीके आजमाने के बावजूद मनचाहा परिणाम नहीं मिलता। अगर हम आपको एक ऐसी चीज के बारे में बताएं जो बाल और त्वचा दोनों पर एक समान असरकारक है तो आप को भी इसे मानना होगा। वह चीज हर घर में मौजूद है। 

आपके किचन में है ऐसी वस्तु जिससे आपके बाल और त्वचा बेहद खूबसूरत और स्वस्थ हो जाएंगे। हम बात कर रहे हैं बैकिंग सोड़ा की। भारतीय किचन की कई ऐसी डिश हैं जिनमें सोड़े का इस्तेमाल जरूरी होता है इसलिए यह हर घर में पाया जाता है। इसके अलावा बैंकिग सोड़े की अन्य खासियत यह है कि यह काफी सस्ता होता है। 

बैकिंग सोड़ा असल में सोडियम बाइकार्बोनेट होता है। यह प्राकृतिक होता है और सफेद रंग के पाउडर में मिलता है। बैकिंग सोड़ा के विषय में खास बात यह है कि इसमें एंटीबैक्टेरियल, एंटीफंगल, एंटीसेप्टिक और एंटीइंफ्लेमैटोरी खूबियां होती हैं। इसके अलावा यह सर्दी जुकाम से लेकर, मुंह की दिक्कत और त्वचा संबंधी रोग से बचाव करता है।  

बैकिंग सोड़ा असरकारक होता है जब इसे कम समय के लिए इस्तेमाल में लाया जाए। परंतु ध्यान रखें कि लंबे समय तक इस्तेमाल से यह त्वचा और बालों को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके अलावा इसे इस्तेमाल करने की शुरूआत करने से पहले आप जांच ले कहीं आपकी त्वचा बैंकिग सोड़े के प्रति संवेदनशील तो नहीं है। 


1. चेहरे पर मुहांसों की समस्या झेल रहे लोगों के लिए बैकिंग सोड़ा बहुत असरकारक है। इसके एंटीसेप्टिक और एंटीइफ्लेमैटोरी गुणों के कारण यह मौजूद मुंहासों के आकार को छोटा करता है तथा नए आने से रोकता है। बैकिंग सोड़े में त्वचा के पीएच को नियंत्रित रखने का गुण होता है जिससे त्वचा में आई खराबी से बचाव होता है। 

बैकिंग सोडे के इस्तेमाल के लिए एक चम्मच सोड़ा लेकर पानी के साथ पेस्ट बनाकर उसे त्वचा पर 1 से 2 मिनट छोड़ना है और फिर ठंडे पानी से धो लेना है। इस पेस्ट का इस्तेमाल हर दिन एक बार अगले दो से तीन दिन करना चाहिए फिर इसे एक हफ्ते तक एक या दो बार कर देना चाहिए। 


2. सफेद दांतों की चाहत रखने वाले लोगों के लिए बैकिंग सोड़ा बहुत कारगर उपाय है। बैकिंग सोड़ा दांतों पर से पीलेपन की परत हटा देता है। इसके साथ ही यह बैक्टेरिया द्वारा बनने वाले एसिड को हटाकर दांतों को प्लाक से बचाता है। 

अपने टूथब्रश पर टूथपेस्ट के साथ बैकिंग सोड़ा भी ले लीजिए और दो मिनिट तक ब्रश कीजिए। हर दिन एक बार कुछ दिन तक ऐसा करने से दांतों पर से पीलापन दूर हो जाएगा। 

इसके अलावा आप घर पर भी टिथवाइटनर बना सकते हैं। इसके लिए 2 चम्मच बैकिंग सोड़ा लेकर उसमें  4 चम्मच हल्दी की गांठ का पाउडर मिला लीजिए। इस मिक्चर में 3 चम्मच एक्स्ट्रा-वर्जिन नारियल तेल मिला लीजिए। इस पेस्ट को ब्रश पर लेकर हर दिन एक बार ब्रश कीजिए। 

सावधानी : ज्यादा मात्रा में बैकिंग सोड़ा के इस्तेमाल से बचें। किसी भी उपाय को कम दिन के लिए ही अपनाएं। ज्यादा समय तक इस्तेमाल करने से बैकिंग सोड़ा दांतों पर से प्राकृतिक एनामल की परत को हटा देगा।  

3. बैकिंग सोड़ा अल्केलाइन प्रकृति का होता है और इसका धूप में झुलसी त्वचा पर बेहतरीन असर होता है। इसके इस्तेमाल से जलन और खुजली बंद हो जाती है। यह एंटीसेप्टीक होने के कारण सनबर्न में काफी असरकारक होता है। 

एक या दो चम्मच बैकिंग सोड़ा को एक कप पानी में घोल बनाकर एक साफ कपड़े को इस घोल में डुबाना चाहिए और उस जगह रखना चाहिए जहां धूप में त्वचा झुलस चुकी हो। इसे पांच से दस मिनट रहने दीजिए और दिन में दो से तीन बार यह उपयोग दोहराएं। 

इसके अलावा बाथटब में आधा कप बैकिंग सोड़ा डाल दीजिए और इस पानी में पांच से पंद्रह मिनिट तक लेटे रहें। एक साफ कपड़े से आराम से खुद को सुखा लीजिए। दिन में एक बार यह प्रयोग कुछ दिन तक दोहराया जा सकता है। 

4. शरीर में त्वचा के रंग का एक जैसा न होना भी बहुत से लोगों को परेशान करता है। अगर आप चमकती त्वचा की इच्छा रखते है तो बैकिंग सोड़ा आपकी मदद कर सकता है। बैकिंग सोड़ा में डेड स्कीन को हटाने का गुण होता है इसके अलावा यह पीएच लेवल को भी संतुलित रखता है जिससे त्वचा खूबसूरत बनी रहती है। 

एक से दो चम्मच बैकिंग सोड़ा को गुलाबजल में मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर ले। इस पेस्ट को चेहरे पर लगा लें। इसे एक मिनट लगा रहने दें और फिर धीरे धीरे उंगलियों की सहायता से स्क्रब की तरह निकालें। आखिर में गुनगुने पानी से चेहरा धो लें। इस उपाय को एक से दो हफ्ते तक किया जा सकता है। बैकिंग सोड़ा इस्तेमाल करने के बाद त्वचा को माइस्चराइज करना न भूलें। 

इसके अलावा एक चम्मच बैकिंग सोड़ा और एक चम्मच नीबू ज्यूस में एक्स्ट्रा वर्जिन जैतून तेल की चार पांच बूंदे मिला लें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। इसे पांच मिनट लगा रहने दें और फिर चेहरा ठंडे पानी से धो लें। एक हफ्ते में दो से तीन बार यह उपाय आजमाया जा सकता है। 

5. नाखून के रंग को लेकर अगर आप चिंतित है तो बैकिंग सोड़े से बढ़कर कोई भी उपाय नही। बैकिंग सोडे में ब्लीचिंग और एक्सफोलिएटिंग गुण होते हैं जिससे नाखून का रंग सुधर जाता है। 

आधा कप पानी, एक तिहाई चम्मच हाइड्रोजन पेरॉक्साइड और एक चम्मच बैकिंग सोड़ा को मिलाकर अच्छा घोल बना लें। अपने नाखून इस घोल में दो से तीन मिनट तक डूबो कर रखिए। पंद्रह दिन में एक बार यह उपाय आजमाया जा सकता है।

6. बैकिंग सोड़ा शरीर की दुर्गंध को भी दूर करता है। यह प्राकृतिक है शरीर की दुर्गंध समस्या को भी दूर करता है। बैकिंग सोड़ा नमी सोखता और त्वचा पर से पसीने को भी सोख लेता है जिससे दुर्गंध पैदा होती है। इसके एंटीबैक्टेरियल गुण की वजह से यह बैक्टेरिया मारता है दुर्गंध को दूर करता है।  

इसके लिए एक चुटकी बैकिंग सोड़ा लेकर उसे एक चम्मच पानी में मिलाकर किसी तेल की कुछ बूंदे डालकर घोल बनाना चाहिए। इस घोल को बगल में रूई की सहायता से लगाना होता है। इसे रोज इस्तेमाल कर सकते हैं। 

7. बरखा के मौसम में अक्सर बालों में नमी रह जाती है। इसके अलावा भी बालों में से आने वाली दुर्गंध आपको परेशान कर सकती है। अगर आप ऐसी किसी समस्या से ग्रस्त हैं तो बैकिंग सोड़ा काफी कारगर उपाय है। इसके अलावा अगर आप तैलीय बालों से परेशान है तो बैकिंग सोड़ा से यह समस्या दूर की जा सकती है। इसके अलावा यह सिर की त्वचा को भी स्वस्थ रखता है। 

एक हिस्सा बैकिंग सोड़ा लेकर तीन हिस्से पानी मिलाकर इस मिश्रण को थोड़े गीले बालों पर लगाएं। पांच मिनट लगे रहने दे और धो दें। माह में एक या दो बार इस उपाय को आजमाइए। 

इसके अलावा एक चम्मच बैकिंग सोड़ा को अपने शैम्पू की बॉटल में मिला लीजिए। इस शैम्पू से हफ्ते में एक या दो बार बाल धो लीजिए। 

8. कई लोगों को रूसी की समस्या बहुत सताती है। इससे निजात पाना अब काफी आसान है। खासतौर पर बारिश और सर्दियों के महीनों में अगर बालों की सही देखभाल की जाए तो रूसी से बचा जा सकता है। 

एक चम्मच बैकिंग सोड़ा गीले बालों और सिर पर लगाइए। इसे एक मिनट रहने दीजिए। इसके बाद इसे पानी से पूरी तरह धो दीजिए। ऐसा हफ्ते में एक बार कीजिए।

इसके अलावा एक ताजे नीबू के रस में एक चम्मच बैकिंग सोड़ा मिलाकर सिर की त्वचा पर लगाइए। इसे एक मिनट लगा रहने दीजिए और फिर पानी से अच्छी तरह से धो लीजिए। एक हफ्ते में एक बार इस उपाय को अपनाया जा सकता है। 

बैकिंग सोड़ा कई गुणों से भरपूर है परंतु इसका उपयोग अत्यधिक सावधानी से करना चाहिए। दिए गए निर्देशों का पालन करें। न तो इसे ज्यादा मात्रा में लेने की गलती करें और न ही ज्यादा देर इसे लगे रहने दें। सही तरीके से इस्तेमाल किए जाने पर यह बहुत कारगर है और बाजार में आसानी से बहुत कम दाम में मिल जाता है। 

Beauty with Baking soda  | Beauty tips | Hair care | Tooth care 


Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.