‘‘बाहरी कौन है? : Kangana Runout

मुंबई: अभिनेत्री कंगना रनौत ने कहा कि उद्योग में आज एक लोकतांत्रिक माहौल है जहां कलाकार खुलकर कह सकते हैं कि ‘वे अंग्रेजी में बात नहीं कर सकते’ और तब भी उन्हें अलग तरह से नहीं देखा जाएगा फिल्म उद्योग में भाई-भतीजावाद पर बहस की शुरूआत करने वाली बिंदास अभिनेत्री कंगना रनौत ने का कहना है कि करण जौहर के चैट शो में उन्होंने जो टिप्पणी की थी वह उनका आकलन थी और इसका यह मतलब कतई नहीं है कि उन्हें फिल्मी हस्तियों की संतानों के बॉलीवुड का हिस्सा बनने पर कोई एतराज है.

अभिनेत्री ने कहा कि वह फिल्मी हस्तियों की संतानों के खिलाफ किसी मिशन पर नहीं है क्योंकि फिल्म उद्योग में हर कोई अच्छी फिल्में बनाने को लेकर काम कर रहा है. उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप भाई-भतीजावाद को लेकर बात कर रहे हैं, तो मुझे भाई-भतीजावाद पर आपत्ति नहीं है, यह मेरा आकलन है. एक इंसान के तौर पर यह मेरा विशेषाधिकार है कि मैं अपने पीछे आने वालों के लिए पदचिह्न छोड़ूं. यह जरूरी है कि उन्हें पता हो कि मैं कहां गिरी, कहां चली, रूकी और दौड़ी….’’

कंगना ने कहा, ‘‘हम सबको इस पर काम करना चाहिए और उंगलियां नहीं उठानी चाहिए तथा इसे ऐसी लड़ाई का रूप देना चाहिए जो हर किसी के लिए समाज को ज्यादा लोकतांत्रिक बनाने के लिए हो.’’ 30 साल की अभिनेत्री ने कहा कि फिल्म उद्योग बाहरी लोगों के प्रति ज्यादा उदार हो गया है और इसका श्रेय उन कलाकारों को जाता है जो अपरांपरागत पृष्ठभूमि से आते हैं और बॉलीवुड में अपने लिए जगह बनाते हैं.

कंगना ने कहा, ‘‘बाहरी कौन है? हम सब सिनेमा बनाने के लिए काम कर रहे हैं. जो भी किसी दूसरे इरादे से काम कर रहा है, वह बाहरी है. मैं खुद को बाहरी नहीं मानती.’’ उन्होंने कहा, ‘‘जो भी अपरांपरागत पृष्ठभूमि से आते हैं, उन्हें इस पर काम करना चाहिए ना कि यह कहना चाहिए कि ‘हम बेहद खुशकिस्मत थे कि हमें किसी भी तरह के भेदभाव का सामना नहीं करना पड़ा या हम वे चुने गए लोग हैं जिन्हें उद्योग ने खुले दिल से स्वीकारा है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘सच्चाई यह है कि आज उद्योग में ज्यादा लोकतांत्रिक माहौल है और ऐसा हम जैसे लोगों के भी कारण है जो इसपर काम कर रहे हैं. मैंने नये लोगों को आसानी से कहते देखा है कि ‘मैं अंग्रेजी में बात नहीं कर सकता या कर सकती, मैं केवल हिंदी में बात करूंगा या करूंगी.’ ऐसा इसलिए है कि हमने इसे सहज बना दिया है.’’ कंगना लाइफस्टाइल द्वारा आयोजित स्प्रिंग समर कलेक्शन ऑफ मेलांज जारी किए जाने के मौके पर बोल रही थी.
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

Post a Comment