नहीँ हुई Rakhi Sawant की गिरफ्तारी

नई दिल्ली : मंगलवार शाम राखी सावंत के गिरफ्तार होने की खबर आई थी। टीवी और बॉलीवुड जगत की मशहूर अभिनेत्री राखी सावंत को गिरफ्तार नहीं किया गया है. ऐसी खबरें आई थी कि लुधियाना पुलिस ने राखी को हिरासत में लिया था और धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में उनकी गिरफ्तारी हो सकती है. ऋषि वाल्मीकि पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने और वाल्मीकि समुदाय की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के जुर्म में पंजाब पुलिस ने मुंबई से गिरफ्तार कर लिया है। खबर थी कि राखी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था। लेकिन अब लुधियाना पुलिस ने राखी की गिरफ्तारी का खंडन किया है.

पुलिस ने कहा कि वह मुंबई में अपने पते पर मिली ही नहीं. गौरतलब है कि एक स्थानीय अदालत ने इस मामले में राखी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर रखा है. लुधियाना पुलिस ऑफिसर की टीम  कार्रवाई के अंर्तगत उनसे मिलने गई थी लेकिन जो पता दिया गया था वहां राखी सावंत नहीं मिलीं और पुलिस वापस लुधियाना लौट चुकी है। 

पुलिस कमिश्नर कुंवर विजय प्रताप सिंह ने यहां कहा, ‘‘राखी सावंत को गिरफ्तार नहीं किया गया है . अदालत ने उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर रखा है…लुधियाना से एक पुलिस टीम वारंट तामील कराने के लिए मुंबई गई थी, लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया है .’’

लुधियाना के DCP ध्रुमन निंबले ने कहा, ‘‘एक स्थानीय अदालत की ओर से जारी वारंट तामील कराने के लिए लुधियाना से एक पुलिस टीम मुंबई गई थी. बहरहाल, उस पते पर वह नहीं मिलीं. उन्हें अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है .’’ उन्होंने कहा कि वह मामले की जानकारी अदालत को देंगे.

अदालत में राखी के खिलाफ दायर शिकायत के आधार पर नौ मार्च को एक स्थानीय अदालत ने वारंट जारी किया. राखी पर पिछले साल एक निजी टीवी चैनल पर अपनी टिप्पणी से वाल्मिकी समुदाय की धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप है .

नौ मार्च को मामले की आखिरी सुनवाई के दौरान राखी अदालत में पेश नहीं हुई थीं. अदालत के निर्देश पर लुधियाना पुलिस की दो सदस्यीय टीम रविवार को गिरफ्तारी वारंट के साथ मुंबई रवाना हुई थी. मामले की अगली सुनवाई 10 अप्रैल को होनी है आपको यह भी बता दें कि अभिनेत्री ने यह टिप्पणी तकरीबन डेढ़ साल पहले की थी जिसके बाद एक वकील ने धार्मिक भावनाएं आहत करने का केस राखी के खिलाफ किया था.

हालांकि बाद में सोशल मीडिया के जरिए राखी ने अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांग लिया था. उन्होंने वीडियो पोस्ट कर कहा था कि उनका मकसद कहीं से भी किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था. अगर उनकी बात से किसी को ठेस पहुंची है तो वह माफी मांगती है.



Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

Post a Comment