Abhijit Bhattacharya ने JNU और Arundhati Roy को ठहराया जिम्मेदार

ट्व‍िटर अकाउंट सस्पेंशन के लिए Abhijit Bhattacharya ने JNU और Arundhati Roy को जिम्मेदार ठहराया है एक विवादित ट्वीट के बाद गायक अभिजीत भट्टाचार्य का ट्व‍िटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है. ट्विटर के इस कदम से एक नया विवाद उठ गया है. वहीं अभिजीत फिलहाल यूरोप में हैं और इस घटना पर हैरानी जता रहे हैं. गौरतलब है कि अभिजीत का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड होने के बाद परेश रावल ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया है. इसमें उन्होंने लिखा था कि पत्थरबाजों को नहीं, अरुंधती राय को जीप से बांधो. अभिजीत ने कहा- मैं अभी यूरोप में हूं और मेरा ट्व‍िटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है. इसकी वजह हैं अरुंधती राय. वहीं JNU का ग्रुप भी इस मामले में उनके साथ मिला हुआ है. मैंने और परेश रावल ने उनकी भारत विरोधी बातों के जवाब में ट्वीट किए थे. इस वजह से ऐसा हुआ.  

बताया जा रहा है कि परेश रावल की टिप्पणी से पहले कुछ पाकिस्तानी चैनलों पर यह खबर आई कि कश्मीरी युवक को जीप पर बांधने की घटना के बाद अरुंधती राय कश्मीर गई थीं और वहां उन्होंने पाकिस्तान के समर्थन में बयान दिया. जबकि अरुंधती का कहना है कि वह इस बीच कभी कश्मीर गई ही नहीं. 

गौरतलब है कि अरुंधती कश्मीर और नक्सलवाद जैसे मुद्दों पर विचारों को लेकर कई बार चर्चा में रही हैं. वहीं परेश के ट्वीट पर उनका कहना था कि उन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि उनके बारे में लोग क्या कहते हैं. बता दें कि लेखिका अरुंधती राय को बुकर प्राइज मिल चुका है और वह नर्मदा बचाओ आंदोलन का हिस्सा भी हैं. 

इस टिप्पणी के बाद अभिजीत का ट्विटर अकाउंट ब्लॉक होना सोनू निगम को रास नहीं आया. उन्होंने लिखा, 'क्या वाकई उन्होंने अभिजीत का अकाउंट सस्पेंड कर दिया? क्यों? ऐसी हालत में इससे भी बदतर गाली-गलौच, धमकियों और कट्टरवाद के लिए 90 फीसदी ट्विटर अकाउंट बंद होने चाहिए. अब देखने वाली बात ये है कि अभ‍िजीत पर लगाया गया ये बैन कितने समय के लिए है और उनकी ट्विटर वापसी कब होती है!
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

Post a Comment