डॉयरेक्टर से खफा स्टूडेंट्स पानी की टंकी पे चढ़ गये

भोपाल। 80 के दशक में आई फिल्म शोले ने पानी की टंकियों को विरोध प्रदर्शन का जरिया बना दिया है। उस फिल्म में एक किरदार 'वीरू' अपनी बसंती के लिए पानी की टंकी पर चढ़ गया था, यहां भोपाल में स्टूडेंट्स अपने डायरेक्टर के खिलाफ टंकी पर जा चढ़े। वो डायरेक्टर को हटाने की मांग कर रहे हैं। 

हाथ में बैनर पोस्टर लिए ये छात्र अपने डिपार्टमेंट में डॉयरेक्टर से खफा है। बरकतउल्ला यूनिवर्सिटी के फिजिकल एजुकेशन डिपार्टमेंट के डॉयरेक्टर डॉ. अखिलेश शर्मा को हटाने की मांग को लेकर पिछले दो दिनों से हड़ताल पर बैठे छात्रों का प्रदर्शन तेज हो गया है। बुधवार को छात्र अपनी मांगों को लेकर पानी की टंकी पर चढ़ गए। छात्रों ने पानी की टंकी पर चढ़कर अपनी मांगों के समर्थन में यूनिवर्सिटी प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। करीब आधा घंटे तक छात्र पानी की टंकी पर ही चढ़े रहे। छात्रों ने पानी की टंकी पर बैनर भी लगा दिया।

छात्रों ने पहली बार अपनाया विरोध का यह तरीका
यह पहली बार है जब छात्रों ने विरोध प्रदर्शन के लिए यह नया तरीका अपनाया है। छात्रों का आरोप है कि विभाग के डायरेक्टर की कार्यप्रणाली के खिलाफ कई बार यूनिवर्सिटी प्रशासन से लेकर मुख्यमंत्री तक को शिकायत कर चुके हैं लेकिन उनके खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई।

कुलपति कर चुके है सस्पेंड
कुलपति प्रो. एमडी तिवारी ने करीब आठ महीने पहले डाॅ.शर्मा को उनके खिलाफ लगातार आ रही शिकायतों के बाद सस्पेंड कर दिया था। लेकिन, कार्यपरिषद द्वारा पिछली बैठक में ही डॉ. अखिलेश शर्मा का निष्कासन समाप्त करने का निर्णय लिया गया है।

3 दिनों से कर रहे हैं हड़ताल
छात्र पिछले तीन दिनों से डॉ. शर्मा के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज कराने की मांग को लेकर हड़ताल पर बैठे हुए हैं। आंदोलन करने वालों में प्रमुख रूप से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के महानगर संगठन मंत्री भगवान राजपूत, महानगर सह मंत्री हर्ष चंदेल सहित अन्य स्टूडेंट्स शामिल हैं।


Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top