VMS College के बाहर हुई फायरिंग

बटाला। कांग्रेसी एमएलए अश्विनी सेखड़ी के वीएमएस काॅलेज के बाहर शुक्रवार सुबह दो कारों पर आए अज्ञात युवकों ने 12 से ज्यादा गोलियां चलाई। घटना में किसी के हताहत होने सूचना नहीं है। काॅलेज की बस और एक अन्य कार पर गोलियां लगी हैं। कॉलेज के प्रधानपद के साथ वारदात को जोड़ा जा रहा है।

हालाकि काॅलेज प्रबंधन और पुलिस इससे साफ इनकार कर रही है। सूचना मिलते ही आईजी ईश्वर चंद्र,एसपी (डी) अमरीक सिंह पवार, डीएसपी कृपाल सिंह, एसएचओ सदर ने मौके पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हमलावरों ने 12 से ज्यादा फायर कर इलाके में दहशत फैला दी।अमृतसर-बटाला हाइवे के नजदीक सुबह 10 बजे विश्वामित्र सेखड़ी कॉलेज के बाहर सफेद रंग की आई-20 कार आकर रूकी। उसमें सवार युवक 315 रायफल, पिस्तौल, माउजरव से लैस थे। कार से बाहर आते ही फायर करने शुरु कर दिए। गोलियां कॉलेज की बस और इनोवा को भी लगीं।

इतने में वे कार में सवार होकर अमृतसर की तरफ फरार हो गए। बाहर खड़ी बस के चालक कुलदीप ने बताया कि गोलियों की आवाज सुुनकर वह छिप गया। बलबीर सिंह ने बताया कि एक गोली उनकी इनोवा के दरवाजे को चीरती हुई सीट में जा घुसी। कॉलेज के चौकीदार गुरमीत ने बताया अन्य कार में भी युवक हथियारों से लैस थे।

सीसीटीवी कैमरे में कैद गोलियां चलाने वाले
कॉलेज के बाहर लगे सीसीटीवी में गोलियां चलाने वाले कैद हैं। उससे पता चलता है कि गोलियां चलाने वाले युवक दो बार वहां पहुंचे थे। दूसरी बार आते ही हमलावरों ने कार से उतरते ही गोलियां चलानी शुरू कर दीं। एक युवक का पिस्तौल भी सड़क पर गिरा। फायरिंग करने वाले युवक किसी बड़े गैंग से जुड़े हो सकते हैं।

कॉलेज प्रधानगी का मामला भी हो सकता है कारण
कॉलेज के गेटकीपर को फायर करने वाले युवक बोले कि यहां किसी को प्रधान नहीं बनने देंगे। इससे पता चलता है कि गोलियां चलाने वाले किसी एक की प्रधानगी के पक्ष में हैं। इस संबंध में दिल्ली से फोन पर बात करते हुए विधायक अश्विनी सेखड़ी ने कहा कि शहर में कानून व्यवस्था नाम को कोई चीज नहीं है। पुलिस अपराधियों को रोक पाने में असफल है।

जिले में हाईअलर्ट कर दिया है। मजीठा, अमृतसर और तरनतारन पुलिस को सूचित कर दिया गया है। कत्ल के प्रयास में गोलियां चलाने के आरोप में केस दर्ज कर लिया गया है। 


Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top