मेरठ मे बिना हेलमेट कार चलाना पड़ा महँगा

यूपी का मेरठ शहर और चालान काटने का जिम्मा ट्रैफिक पुलिस पर.. कल्पना करिए कि फिर क्या होगा? आपको बताते हैं कि यूपी में जब एक ट्रैफिक पुलिस वाला चालान काटने पर आता है, तो क्या करता है. दरअसल मेरठ में ट्रैफिक पुलिस ने एक कार ड्राइवर का हेलमेट ना पहनने के जुर्म में चालान काट दिया.

यही नहीं एक कदम आगे बढ़ते हुए ट्रैफिक पुलिस वाले ने मारूति स्विफ्ट का नंबर चालान पर्ची पर भी डाल दिया. इससे दुखी ड्राइवर सीधे एसएसपी के पास पहुंचा और अपना दुखड़ा सुनाया. इसके बाद एसपी ने इस मामले में जांच का आदेश दिया.

यह घटना रविवार की शाम को हसनपुर क्षेत्र में हुई. 43 वर्षीय शैलेन्दर सिंह को ट्रैफिक पुलिस अफसर ने रोका और कार के पेपर मांगे. सिंह के मुताबिक उनके पास पूरे कागज थे, लेकिन ट्रैफिक पुलिस वाले ने उन्हें जाने नहीं दिया.

उन्होंने कहा, 'मुझे अपने चार महीने के बच्चे को डॉक्टर के पास लेकर जाना था, लेकिन ट्रैफिक पुलिस वाले ने रोके रखा. काफी बहस के बाद हेलमेट ना पहनने के जुर्म में चालान कर दिया.'

शैलेंदर सिंह ने कहा, 'मुझे पता नहीं था कि कार चलाते वक्त भी हेलमेट पहनते हैं?' दूसरी ओर चालान काटने वाले ट्रैफिक पुलिस ऑफिसर शिवराज सिंह ने सफाई देते हुए कहा, 'शैलेंदर सिंह ड्राइव करते हुए फोन पर बात कर रहे थे, इसलिए उन्हें रोका गया. इसलिए हम उनका चालान करने वाले थे.'

ट्रैफिक पुलिस ऑफिसर ने कहा, 'मैंने हसनपुर चौकी इनचार्ज बचन सिंह को चालान करने के लिए बोला था, लेकिन उसने गलती से हेलमेट ना पहनने के जुर्म चालान काट दिया. हालांकि यह ड्राइविंग के दौरान मोबाइल पर बात करने के लिए होना चाहिए था.'

सोमवार को शैलेंदर एसएसपी डीसी दुबे के पास पहुंचे और उन्हें पूरी घटना सुनाई. दुबे ने ट्रैफिक पुलिस के एसपी को मामले का जिम्मा सौंपा. एसएसपी ने कहा कि अगर घटना सही पाई गई, तो कर्मियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी.


meerut helmet case of car, man not wearing helmet in car case 

Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top