ये 6 बीमारियां छूमंतर कर देता है गाय का घी

 आयुर्वेद में गाय के घी को अमृत माना गया है। गाय का घी बिल्कुल शुद्ध होता है और इससे कई तरह की बीमारियां दूर होती है। इसका नियमित सेवन आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होता है। जानिए, घी के फायदों के बारे में-

1. माइग्रेन: दो बूंद देसी गाय का घी नाक में सुबह-शाम डालने से माइग्रेन व नजले की तकलीफ में आराम मिलता है।
2. सिरदर्द और अनिद्रा: सिरदर्द होने पर गाय के घी की मालिश पैरों के तलवों पर करें। हाथ-पैर में जलन व अनिद्रा की समस्या हो तो भी घी की तलवों पर मालिश करें।
3. तेज दिमाग: फफोलों पर देसी घी लगाने से आराम मिलता है। नाक में घी डालने से खुश्की दूर होती है और दिमाग तरोताजा रहता है।
4. सर्दी-जुकाम: इस घी की छाती पर मालिश करने से बच्चों को जुकाम में लाभ होता है और कफ बाहर निकलता है।
5. एसिडिटी: अगर ज्यादा कमजोरी लगे तो एक गिलास दूध में एक चम्मच गाय का घी और मिश्री मिलाकर पिएं। गाय के घी का नियमित प्रयोग करने से एसिडिटी व कब्ज की शिकायत कम हो जाती है। इस घी के प्रयोग से मांसपेशियां व हçaयां मजबूत होती हैं।
6. वजन: गाय के घी में कोलेस्ट्रॉल नहीं होता जिससे मोटापा बढ़ने की समस्या नहीं रहती।

Health tips | ghee facts | acidity | weight | migraine 

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top