तो यह है तारक मेहता टीम की पर्दे के पीछे की असलियत

कॉमिडी शोज कभी किसी खास उम्र वर्ग की चॉइस नहीं रहे, बल्कि इनकी टारगेट ऑडियंस का दायरा हमेशा से ही बहुत बड़ा रहा है। इन्हें सभी परिवार के साथ बैठकर देखना पसंद करते हैं। जब बात कॉमिडी शोज की हो, तो सबसे पहला नाम ज़ुबां पर सालों से लोगों को हंसाते आ रहे शो 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' का आता है। 

इस शो की पॉप्युलैरिटी का एहसास सेट के बाहर खड़े फैंस के हुजूम को देख कर ही लग जाता है, जिसका गवाह इस बार एनबीटी बना है। इस बार हमने की गोरेगांव स्थित तारक मेहता के सेट पर विजिट। आप भी लें वहां के मजेदार माहौल के चटकारे!

हर दिन लगता है फैन्स का हुजूम
सबसे पहले हमने सेट के बाहर खड़े फैंस को देखा, जो अपने फेवरिट कैरेक्टर दया बेन, जेठा लाल, तप्पू, हाथी के नाम पुकार कर उनसे अपने साथ फोटो खिंचवाने की गुजारिश कर रहे थे। प्रॉडक्शन के एक मेंबर ने हमें बताया कि यहां रोज ही ऐसा रहता है। हर रोज इसी तरह फैंस आते हैं। पूरी फिल्म सिटी में ऐसा नजारा सिर्फ तारक मेहता के सेट पर ही देखने को मिलता है।

तप्पू प्रैंक्स्टर, तो दया है डेंजरस
सेट पर कौन है सबसे बड़ा प्रैंक्स्टर? यह सवाल पूछे जाने पर दिशा वकानी (दया) ने अपने ऑनस्क्रीन बेटे भव्य गांधी (यानी तप्पू) का नाम लिया। दिशा ने बताया, तप्पू सेट पर दिन भर मस्ती करता रहता है। उसकी तप्पू सेना शूटिंग के बाद भी काफी ऐक्टिव रहती है और सेट पर सभी की खिंचाई करती रहती है। भव्य ने हमें बताया, सेट पर मैं और मेरे फ्रेंड्स क्रिकेट खेलते रहते हैं या फिर पार्क में कई तरह के गेम्स खेलते हैं। अगर सेट पर हमें कोई ज्यादा डांटता है, तो उसकी तो फिर खैर नहीं होती। हम सभी बच्चे वैनिटी वैन में बुलाकर उन्हें बहुत परेशान कर देते हैं।

दिशा भी अपने साथ हुए एक किस्से का जिक्र करते हुए कहती हैं, 'कई बार मुझे अपने को-स्टार्स के साथ उन्हें मार कर बात करने को कहा जाता है। मैंने एक बार अपनी एक को-स्टार के हाथ पर जोर से मार दिया, जिससे उसका हाथ लाल हो गया। एक बार दिलीप जोशी (जेठा लाल) के साथ मुझे अगरबत्ती लेकर कोई सीन शूट करना था और मुझसे वह अगरबत्ती दिलीप के कंधे पर जा गिरी और उन्हें मेरी वजह से चोट लग गई। तभी से प्रॉडक्शन वाले मुझे डेंजरस मानने लगे और मुझे प्रॉप्स के साथ शूटिंग नहीं करने देते।'

मस्तमौले जेठा तो खड़ूस निकले!
सीरियल में जहां हम दिलीप जोशी (जेठा लाल) को मस्तमौला और हंसमुख देखते हैं, वहीं असल जिंदगी में सेट पर वह खड़ूस नजर आते हैं। यह कहना है प्रॉडक्शन से जुड़े कई मेंबर्स का। उनके मुताबिक, सेट पर वे काम को लेकर किसी तरह का समझौता नहीं करते। उन्हें हर चीज पर्फेक्ट चाहिए होती है। शूटिंग शुरू होने से पहले वह चाहते हैं कि माइक, कैमरा, स्क्रिप्ट और डायलॉग सबकी तैयारी हो जाए, ताकि उन्हें आकर किसी का इंतजार न करना पड़े। दिलीप जोशी चीजों को पर्फेक्ट न देखकर कई बार भड़क जाते हैं। यही वजह है कि प्रॉडक्शन के कई मेंबर उन्हें खड़ूस कहते हैं। पिछले दिनों यह भी अफवाह थी कि दिलीप की अपने को-स्टार शैलेश लोढ़ा से नहीं बनती। उन दोनों के बीच कोल्ड वार जारी रहता है। हालांकि दिलीप इसे कोरी अफवाह बताते हैं। उनके अनुसार ऐसा कुछ भी नहीं है। बल्कि, उनका कहना है कि वे और शैलेश कई बार एक साथ वैनिटी में बैठ कर बातें करने के साथ-साथ स्क्रिप्ट भी डिस्कस कर लेते हैं।

बबीता को लगता है कॉकरोच से डर
शो में बबीता का किरदार निभा रहीं मुनमुन दत्ता ऐक्टर होने के साथ-साथ असल में एक बेहतरीन डांसर और सिंगर भी हैं। वैसे आपको यहां मुनमुन से जुड़ी एक खास बात बताएं? दरअसल, बबीता को कॉकरोच से बहुत डर लगता है और पूरी यूनिट उनके इस डर से वाकिफ है। वह कॉकरोच देख लें, तो अपनी वैनिटी वैन तक से बाहर तक नहीं निकलतीं। सेट पर सभी उन्हें कॉकरोच को लेकर तंग करते रहते हैं।

हाथी का किरदार निभा रहे कवि कुमार को लेखनी का बड़ा शौक है। जल्द ही उनकी एक किताब भी छपने वाली है। वे अपने वजन से काफी परेशान रहते हैं। उन्हें हमेशा डबल कुर्सी पर बैठना पड़ता है। सेट पर सभी मेंबर उनका खास खयाल रखते हैं।

बंदर रुकवा देते हैं शूटिंग और बिजली करती है इरिटेट
सीरियल की जान दिशा वकानी यानी दया बेन बताती हैं, पिछले 7 साल से शूटिंग करते-करते उन्हें इस सेट से खासा लगाव हो गया है। वह इसे अपना घर मानती हैं। ऐक्टिंग के प्रति उनके जुनून और हर दिन कुछ नया करने की चाह उन्हें सेट पर आने के लिए प्रेरित करती है। सेट पर पॉजिटिव माहौल होने से भी उनका वहां मन लगा रहता है। दो चीजें जिनसे दिशा को प्रॉब्लम होती है, वे हैं शूटिंग के बीच बंदरों का आ जाना और बिजली का गुल हो जाना। शूटिंग के दौरान कई बार बंदर बीच में आ जाते हैं जिससे कई बार शूटिंग रोकनी पड़ जाती है। वहीं, इन दिनों गर्मी ज्यादा होने की वजह से कई बार बिजली भी नहीं रहती जिससे सेट पर मौजूद सभी आर्टिस्ट इरिटेट हो जाते हैं।

real life of tarak mehta team members , tv news 

Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top