चलती ट्रेन में लड़की के कपड़े फाड़े, बाहर फेंकने की कोशिश

रायपुर (छत्तीसगढ़). ओडिशा से छत्तीसगढ़ के रायपुर आ रही एक पैसेंजर ट्रेन में सोमवार की सुबह दो लड़कों ने एक लड़की से छेड़खानी की और उसके कपड़े फाड़ दिए। विरोध करने पर आरोपियों ने लड़की को ट्रेन से फेंकने की कोशिश की। यात्रियों से भरी बोगी में बदमाशों ने करीब डेढ़ घंटे तक दबंगई दिखाई। इसी दौरान किसी यात्री ने चुपचाप रेलवे हेल्प लाइन नंबर 1091 पर कॉल कर दिया, जिसके बाद टीटीई की टीम वहां पहुंची। उन्हें देख बदमाश भागकर दूसरी बोगी में छिप गए। जीआरपी और आरपीएफ की फोर्स ने महासमुंद स्टेशन पर घेरकर एक को पकड़ लिया।

हेल्पलाइन नंबर से मिली मदद
ट्रेन में हेल्प लाइन नंबर की मदद से बदमाश को पकड़ने की यह संभवतः पहली घटना है। आरपीएफ के अफसरों ने बताया कि ट्रेन में जीआरपी और उनकी फोर्स थी। महासमुंद में जीआरपी प्रभारी अभिमन्यु नायक ने बताया कि ट्रेन के किसी यात्री ने हेल्प लाइन नंबर 1091 पर घटना की जानकारी दी थी। इसके बाद टीटीई को सूचित करने के साथ फोर्स को अलर्ट किया गया और आरोपी पकड़े गए। जीआरपी ने परमानंद नाम के एक लड़के को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है, जबकि इस घटना में शामिल उसके साथी की तलाश की जा रही है।

फोटो लेने लगे थे आरोपी, मना किया तो करने लगे बदतमीजी
पीड़िता खरियार रोड से रायपुर आने के लिए ट्रेन में सवार हुई थी। आरोपी ट्रेन की बोगी में युवती के सामने वाली सीट पर बैठे थे। अकेली देखकर वे मोबाइल से उसकी फोटो लेने लगे। वे कई एंगल से फोटो ले रहे थे। कुछ देर तक तो पीड़िता शांत रही, लेकिन बाद में उसने विरोध किया और उन्हें ऐसा करने से मना किया। इस पर लड़कों को बुरा लगा और वे बदतमीजी करने लगे। जब पीड़िता ने कड़े शब्दों में उनकी हरकतों का विरोध किया तो आरोपी उसके करीब पहुंच गए और उसके कपड़े खींचने लगे। झूमाझटकी में उसके कपड़े फट भी गए। इस दौरान आरोपियों ने लड़की को ट्रेन से बाहर फेंकने की कोशिश भी की। हालांकि, हेल्पलाइन नंबर से मिली सूचना के बाद उसी समय टीटीई की टीम वहां पहुंच गई। उन्हें देखकर बदमाश भागकर दूसरी बोगी में छिप गए। टीटीई ने आरपीएफ कंट्रोल रूम को खबर दे दी। ट्रेन उसी समय महासमुंद स्टेशन पहुंची। एक बदमाश को वहीं घेरकर पकड़ लिया गया।

कुछ यात्रियों ने करनी चाही मदद, पर डर से बैठ गए
घटना के दौरान पीड़िता बदमाशों का विरोध करने के साथ-साथ ट्रेन में सवार दूसरे यात्रियों से मदद मांग रही थी। एक-दो यात्रियों ने बदमाशों का विरोध करने का प्रयास किया। वे सामने आए, लेकिन दोनों बदमाशों ने उन्हें डरा-धमकाकर बिठा दिया। उन्होंने यात्रियों को धमकी दी कि पूरा इलाका उनका है। कोई भी आगे बढ़ा तो उसे अंजाम भुगतना पड़ेगा।

ऐसी घटना हो तो आप इन नंबरों से लें मदद
*138: यह खास हेल्पलाइन नंबर है। देश में कहीं भी इस नंबर पर शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। यह रियल टाइम हेल्पलाइन नंबर है।
*100: यह पुलिस कंट्रोल रूम नंबर है। इस नंबर पर रेल यात्री भी शिकायत कर सकते हैं।
*182 : यह सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर है। सफर के दौरान महिलाएं ही नहीं, कोई भी यात्री इस नंबर पर शिकायत कर सकता है।
* 9717630982 : इस पर एसएमएस से शिकायत कर सकते हैं। शिकायत की ऑनलाइन ट्रैकिंग भी संभव है।
*0771-4287100: यह भी कंट्रोल रूम का ही नंबर है। त्वरित कार्रवाई के लिए इस पर कॉल कर सकते हैं।

Train | Raipur | Attempt to rape | crime 


buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top