गर्लफ्रेंड से कॉल कराया, दोस्त को किया किडनेप, मर्डर

नई दिल्ली. कॉलेज के हॉस्टल में लड़ाई होने पर एक स्टूडेंट ने दूसरे स्टूडेंट की हत्या का फैसला किया । उसने अपनी गर्लफ्रेंड से उस स्टूडेंट को फोन करवा कर रोहिणी के मॉल में बुलवाया। वहां से उसे किडनैप कर लिया गया और मर्डर करने के बाद शव जंगल में फेंक दिया गया। किडनैपिंग और मर्डर केस दर्ज कर लिया गया है। अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

यह वारदात गुरुवार को आउटर दिल्ली के रोहिणी इलाके में हुई। बाहरी दिल्ली के नरेला में झंडा चौक पर रहने वाले कृष्ण गुलिया का बेटा दीपक गुलिया (19) सोनीपत के अपोलो मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट में पढ़ता था। कंझावला निवासी रोहित माथुर भी उसी इंस्टिट्यूट में पढ़ता है। दोनों वहीं हॉस्टल में रहते थे। जानकारी मिली है कि करीब छह महीने पहले दोनों में किसी बात पर झगड़ा हो गया था। तभी से अनबन चली आ रही थी।

गुरुवार शाम 5:15 बजे आउटर डिस्ट्रिक्ट में पीसीआर का वायरलेस फ्लैश हुआ, जिसमें बताया गया कि कंझावला में झाड़ियों में एक युवक का शव मिला है। यह मेसेज प्रशांत विहार थाने में भी सुना गया। उस वक्त वहां पीतमपुरा पुलिस लाइंस में रहने वाले पुलिसकर्मी का बेटा अजय अपने परिवार के साथ मौजूद था। वह पुलिस को आपबीती बता रहा था। पुलिस उसे साथ लेकर कंझावला पहुंची। अजय ने मृत युवक की शिनाख्त कर ली। वह दीपक गुलिया का शव था।

पुलिस को जानकारी मिली कि रोहित ने अपनी दोस्त मनीषा (बदला नाम) से दीपक को फोन कराया था। दरअसल, दीपक और उसकी गर्लफ्रेंड रचना (बदला नाम) में किसी बात पर अनबन चल रही थी। मनीषा ने दीपक को बताया कि 25 जून को रचना का बर्थडे है और वह रोहिणी के सिटी सेंटर मॉल में इसे सेलिब्रेट करेगी। अगर इस मौके पर वह सिटी सेंटर मॉल केक लेकर आ जाए तो इस सरप्राइज से उनमें फिर से दोस्ती हो सकती है।

दीपक तैयार हो गया। वह 25 जून को 11:30 बजे अपने दोस्तों अजय और सागर के साथ सिटी सेंटर मॉल में केक लेकर पहुंच गया। मगर वहां न तो मनीषा नजर आई और न रचना। दीपक ने मनीषा को फोन किया। मनीषा ने कहा कि वे लोग मैकडॉनाल्ड आ गए हैं। वह मॉल के पीछे आ जाए। दीपक अपने दोस्तों के साथ मॉल के पीछे पहुंच गया। वहां एक्सयूवी और आई-20 कारों में दर्जन भर लड़के सवार थे। उन लड़कों ने दीपक, सागर और अजय को पीटना शुरू कर दिया।

यह पूरा वाकया मॉल के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। हमलावरों ने दीपक और अजय को गाड़ियों में डाल कर अगवा कर लिया और सागर को वहीं छोड़ दिया। पुलिस के मुताबिक, रोहित ने कार में अपने दोस्तों से कहा कि अजय के पिता दिल्ली पुलिस में हैं, इसलिए उसे नीचे उतार दें। अजय को रिठाला मेट्रो स्टेशन पर उतार दिया गया। मॉल के पास ही पुलिस चौकी है और पीसीआर का पॉइंट है। प्राइवेट गार्ड भी वहां रहते हैं। इसके बावजूद यह वारदात हो गई। अजय से इस बारे में जानकारी मिलने पर उसके परिवार वाले उसे लेकर शाम को प्रशांत विहार पहुंचे। उसके बाद दीपक का शव बरामद हुआ। प्रशांत विहार थाने में दीपक गुलिया के अपहरण और मर्डर का केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज अपने कब्जे में ली है।

Murder | Crime News | students | Girlfriend 

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top