गुटबाजी का शिकार हो गई टीम इंडिया

नई दिल्ली. बांग्लादेश से सीरीज गंवाने के बाद यह बात लगभग ज़ाहिर हो चुकी है कि टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम का माहौल कुछ ठीक नहीं चल रहा है। टीम इंडिया के अंदर गुटबाजी चल रही है कहा जा रहा है कि खिलाड़ियों के चयन आदि को लेकर टीम में दो धड़े बन गए हैं। बताया जा रहा है कि कप्तान धोनी से कई चेहरे नाखुश हैं, जिसका खामियाज़ा टीम को हार का सामना कर भुगतना पड़ रहा है।

कोच पर दोराय ?
कोच के मसले पर जहां कोहली अभी भी टीम निदेशक रवि शास्त्री की राह को बेहतर मान रहे हैं, वहीं धोनी कहीं न कहीं डंकन फ्लेचर के महान मार्गदर्शन पर विचार कर रहे हैं।

गेंदबाजी का प्रदर्शन 
सूत्र कहते हैं कि जहां कोहली को टीम के फास्ट बोलरों से कोई शिकायत नहीं है, वहीं धोनी ने तेज गति के गेंदबाजों पर निराशा जताई है। सूत्रों के मुताबिक कुछ खिलाड़ी कोहली की आक्रामकता के मुरीद हैं, तो कुछ को धोनी के अजीबोगरीब फैसले रास नहीं आ रहे हैं।

लगातार आ रहे बयान
भारत के टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने हाल में निर्णय लेने में विश्वास और स्पष्टता की कमी का आरोप लगाकर हलचल पैदा कर दी थी। कोहली के इस बयान को संकट में घिरे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व पर हमले के रूप में देखा जा रहा है।

हालांकि कोहली ने ड्रेसिंग रूम में किसी तरह की फूट से इनकार किया। उन्होंने कहा कि ड्रेसिंग रूम में माहौल पहले की तरह ही है। हमने कुछ मैच गंवाये हैं लेकिन ज्यादा मैच जीते हैं।'

धोनी के पक्ष में ज्यादातर खिलाड़ी 
रैना, गांगुली समेत टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर आर अश्विन भी महेंद्र सिंह धोनी के साथ खड़े हैं। उन्होंने बांग्लादेश के हाथों पहली वनडे सीरीज गंवाने पर कहा कि ड्रेसिंग रूम के माहौल में कोई बदलाव नहीं आया है।

Sports news | Team india disputes | Dhoni V/s Virat | 

Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top