बदल गए क्रिकेट के नियम, पढ़िए क्या हुआ नया

मेलबोर्न. क्रिकेट के खेल में गेंद और बल्ले के बीच संतुलन बैठाने के लिए एक बड़ा कदम उठाते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट से बैटिंग पावरप्ले को समाप्त करने का फैसला किया है।

5 जुलाई से नए नियम होंगे प्रभावी
बारबाडोस में आईसीसी के सालाना सम्मेलन में बैटिंग पावरप्ले को वनडे से हटाने के साथ गेंदबाजों को कुछ राहत देते हुए फील्डिंग में भी ढिलाई करने का फैसला किया गया है। आईसीसी ने सम्मेलन में क्रिकेट के 50 ओवर प्रारूप में कई बदलावों पर अपनी मुहर लगा दी है जो 5 जुलाई से वनडे इंटरनेशनल मैचों में प्रभावी होंगे।

5 फील्डरों को तैनात करने की अनुमति
आईसीसी के किए गए बदलावों के तहत शुरुआत 10 ओवर्स में 30 गज के घेरे में फील्डर लगाने के निर्णय को भी खत्म कर दिया है, जबकि 10 ओवर के बाद घेरे के बाहर 5 फील्डरों को तैनात करने की अनुमति होगी। पहले के नियम के अनुसार यह संख्या अधिकतम चार थी।

गेंद और बल्ले के बीच संतुलन बैठाने में मदद
आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेविड रिचर्डसन ने एक बयान में कहा, "हमने आईसीसी विश्वकप की सफलता के बाद वनडे प्रारूप की गहन समीक्षा की है। हमें इसमें बहुत बड़े बदलाव करने की जरूरत नहीं है। यह खेल का सबसे लोकप्रिय प्रारूप है इसलिये हम इसे आम जनता के हिसाब से आसान और समझ आने वाला बनाना चाहते हैं। इसके साथ ही यह बदलाव गेंद और बल्ले के बीच संतुलन बैठाने में भी मदद करेगा।"

ये हैं नए नियम:-
1. 15 से 40 ओवर के बीच एक बार लिया जाने वाला बैटिंग पावरप्ले खत्म।
2. पहले 10 ओवर में कैचिंग फील्डर लगाने की अनिवार्यता खत्म।
3. 41-50 ओवर तक 30 गज के घेरे के बाहर 5 खिलाड़ी रखे जा सकेंगे।
4. अब हर नोबॉल पर फ्री हिट। इससे पहले सिर्फ ओवर स्टेपिंग नोबॉल पर ही फ्री हिट मिलती थी।

ODI Batting Powerplay Rules Changed | ICC Rules book | Indian cricket team | sports news 

Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top