सुडौल वक्ष के लिए जान जोखिम में डाल रहीं लड़कियां

लड़कियों के फिगर को विकसित करने की होड़ मे लड़कियाँ आजकल क्या क्या नहीं करती।  जिमिंग ,एक्सरसाइज , टॉनिक्स  और  ट्रीट्मेंट्स का सहारा लेती है। डॉक्टर्स के पास जाकर लाखों रुपये तक फूंक देती है, वो भी केवल अपने आकर्षक सुडौल फिगर पाने के खातिर। शादी शुदा महिलाएं भी ऐसे डॉक्टर्स के चंगुल मे फँसकर लाखों रूपये खर्च  कर देती है । लेकिन क्या आपको  पता है की  जो डॉक्टर्स आपसे इस ट्रीटमेंट के लाखों रूपये  हड़पते है वो केवल मात्र 2 रूपये के इंजेक्शन का कमाल  है। इस इंजेक्शन का नाम है  "पीटोसीन इंजेक्शन "

 "पीटोसीन इंजेक्शन " सुडौल  फिगर देने मे सहायक है जो की  मल्टीबिटामिन  इंजेक्शन  के साथ लगाया जाता है । इस  इंजेक्शन को  एक माह तक चलने वाले इस ईलाज में साप्ताह में एक इंजेक्शन इंजेक्ट किया जाता है । 

शासन ने पीटोसीन इंजेक्शन पर बैन लगाया है क्यूंकि ये इंजेक्शन  भैंसों ओर गायों के थनो में इंजेक्ट किया जाता है इससे इनके हारमोनो मेें हलचल होने लगती है और इस कारण दूध की मात्रा बढ़ जाती है परन्तु इसके दुष्परिणाम भी शीघ्र ही सामने आने लगे है  इस ड्रग के कारण गाय भैसों का बांझ होने का खतरा होने लगता है और दूध भी जहरीला होने लगता है इस कारण शासन ने यह ड्रग प्रतिबंधित किया है।


Doctors | girls | Figure | treatment 


buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top