पाकिस्तान में रेप और ब्लेकमेलिंग की एक घिनौनी वारदात

भारत की सरहद से लगते पाकिस्तान के पंजाब सूबे के एक गांव में एक ‘गिरोह’ ने कथित तौर पर बड़ी तादाद में लड़के और लड़कियों से बलात्कार किया। पाकिस्तान पंजाब के मुख्य मंत्री शाहबाज शरीफ ने इस कांड में जांच के आदेश दिए हैं।

पुलिस ने एक ‘गिरोह’ के 15 संदिग्धों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज किए हैं और पाकिस्तान पंजाब के कसूर जिले के गंडा सिंह गांव के उनमें से तीन को गिरफ्तार कर लिया है।

बड़ी तादाद में गांव वाले जब संदिग्धों के घरों के बाहर इकट्ठा हो गए और उन्हें जलाने की धमकी दी तो पुलिस ने तीन और के खिलाफ एफआईआर दर्ज की।

क्षेत्रीय पुलिस अधिकारी साहिबजादा शहजाद सुलतान ने कहा, ‘ हम जल्द ही अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लेंगे। हम कुछ सुबूत बरामद कर लिए हैं। पूरी तस्वीर जांच के बाद ही साफ होगी।’

एफआईआर के मुताबिक संदेह है कि रसूखदार संदिग्धों ने नौजवान लड़कों के साथ दुष्कर्म और लड़कियों के साथ बलात्कार करने की वीडियो बनाते थे। ये संदिग्ध लोगों गांववालों को ब्लैकमेल कर उनसे लाखों रुपयों और सोने के जेवरातों की फिरौती की मांग करते रहे होंगे।

अधिकारी ने बताया, ‘ गंडा सिंह गांव में हर कोई इस तरह की वारदात से वाकिफ था लेकिन आरोपियों द्वारा ब्लैकमेल किए जाने के भय से गांववाले बरसों मौन रहे। एक शिकायत में कहा गया है कि संदिग्धों ने सैकड़ों लड़के और लड़कियों को शिकार बना कर उनका शोषण किया।

पाकिस्तान के पंजाब सूबे के मुख्यमंत्री ने क्षेत्रीय पुलिस अधिकारी सुलतान से इस कांड की 24 घंटे के भीतर प्रारंभिक रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है।
Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top