बोको हराम: गैंगरेप के बाद छात्राओं को हथियार थमा दिए

पिछले साल नाइजीरिया से अगवा 219 स्कूली छात्राएं खूंखार आतंकी बन चुकी हैं। आतंकी संगठन बोको हराम बे्रन वॉश के जरिए इन मासूम लड़कियों को अपने इशारों पर नचा रहा है। आतंकी संगठन की कैद से फरार होने वाली एक महिला ने यह खुलासा किया है

मानवाधिकार संस्था एमेनेस्टी ने अपने शोध में भी रिपोर्ट में दावा किया है कि इन लड़कियों को जंग के लिए तैयार किया जा रहा है। यह बोको हराम की रणनीति का हिस्सा है। 

60 साल की अन्ना के मुताबिक वह अगवा लड़कियों के साथ सामबिसा के जंगलों में कैद थीं और बाद में फरार होने में कामयाब रहीं। कैद के दौरान उन्होंने देखा कि अगवा बच्चियों से कैदियों को प्रताडि़त करने, कोड़े मारने से लेकर सिर कलम कराने जैसे खूंखार काम कराए जा रहे हैं। कई लड़कियों को लड़ाका बनने की ट्रेनिंग भी दी जा रही है। लड़कियां अब बंदूक लेकर घूमती हैं और हर कोई उनसे डरता है। 

नाइजीरिया के चिबोक कस्बे से 276 लड़कियों को पिछले साल अप्रैल में अगवा किया गया था, जिनमें से 57 भागने में कामयाब रही थीं। अन्ना के मुताबिक आतंकियों की कैद में बचीं ज्यादातर लड़कियों की लड़ाकों से शादी कर दी गई है और फिर  पति की तरह क्रूर बनने के लिए उनका बे्रनवॉश किया जा रहा है। 

इस बच्चियों को बचाने के लिए पूरी दुनिया में अभियान और प्रदर्शन हुए थे। ट्विटर पर हैशटैग 'ब्रिंगबैकआवरगर्ल्स' 50 लाख बार शेयर हुआ था।

boko haram womens terrorist | Boko haram news | nigeria | world news 

Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top