मां ने प्राइवेट नौकरी कर पढ़ाया, बेटा IAS बन गया

डबवाली/सिरसा/चंडीगढ़। बेहद मुश्किल परिस्थितियों में पढ़ाई करके एक बेटे ने सिविल सर्विस (आईएएस) की परीक्षा पास की है। पिता की मौत के बाद उनके सपने को पूरा करके बेटा भी खुशी से सराबोर है। सिविल सर्विस की परीक्षा में 325वीं रैंक पाने वाले चंद्रमोहन का जन्म उपमंडल डबवाली के गांव रिसालियाखेड़ा से हैं। 

उनके पिता भगवाना राम सिरसा आईटीआई में हैड क्लर्क के तौर पर कार्यरत थे। उन्होंने अपने बड़े बेटे गौरव और छोटे बेटे चंद्रमोहन को हमेशा उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित किया। करीब आठ साल पहले उनका निधन हो गया। पिता के जाने के बाद उनकी शिक्षा का बोझ उनकी माता दयावंती पर आ गया। दोनों बच्चों को मार्केट कमेटी सिरसा में हैड क्लर्क रहे चाचा हनुमान स्वामी ने संभाला। अपने बच्चों की तरह उनकी परवरिश की। 

पिता के सपने को पूरा करने के लिए चंद्रमोहन को कोटा भेजा। कुछ समय पहले आए आईआईटी के रिजल्ट में भी अच्छा रेंक प्राप्त करके चंद्रमोहन ने हुनर का परिचय दिया। इन दिनों वह नागपुर में ट्रेनिंग ले रहा था। 


Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top