ऐसे मौलवीयों का Islam religion में होना बहुत शर्म की बात है:Salim khan

मुंबई। यह तो आप जानते ही होंगे कि टीवी सिंगिंग शो ' इंडियन आइडल जूनियर ' में फर्स्ट रनर अप तक पहुंची असम की सिंगर नाहिद अफरीन के खिलाफ 46 मौलवियों ने फतवा जारी किया है। नाहिद के पब्लिक में परफॉर्म करने पर पाबंदी लगाई गई है। इस मामले में अब बॉलीवुड के एक्टर, स्क्रीनराइटर और सलमान ख़ान के पिता सलीम ख़ान ने दिया है एक बड़ा बयान। सलीम जी ने इस टैलेंटेड बच्ची के खिलाफ जारी हुए फतवे निकालने वाले मौलवियों पर निशाना जड़ा है और नाहिद का साथ देते हुए ट्वीट किया है, " ऐसे मौलवीयों का इस्लाम धर्म में होना बहुत शर्म की बात है " सलीम जी के ट्वीट्स यहीं ख़त्म नहीं हुए, सलीम खान ने शुक्रवार को ट्विटर के जरिए अपनी बात रखते हुए कहा, 'मीडिया उन्हें धर्मगुरु या मौलाना कहता है और इसी वजह से उन्हें लोग इन्टलेक्चूअल मानते हुए उनकी रिस्पेक्ट करते हैं, जिसके वो कतई हकदार नहीं हैं। उन्हें यह तक नहीं पता कि फतवा कोई आदेश या फैसला नहीं है, बल्कि वह इस्लामिक विद्वानों के द्वारा दिया जाने वाला एक ऑपिनियन मात्र होता है। मोहम्मद साहब ने अपनी पूरी जिंदगी में कभी भी किसी भी मुद्दे को लेकर कोई फतवा जारी नहीं किया। इन तथाकथित धर्मगुरुओं की वजह से आज इस्लाम के फॉलोअर्स को भारी शर्मिंदगी झेलनी पड़ रही है।'

दरअसल, फतवे में लिखा गया है कि 16 साल की नाहिद 25 मार्च को असम के जिस उडाली सोनाई बीबी कॉलेज में गाना गाने जा रही है वो शरीया के खिलाफ है। अगर शरीया के खिलाफ खुलेआम मैदान में इस तरह का कोई भी कार्यक्रम होगा तो इसके खिलाफ कड़ा कदम उठाया जाएगा। साल 2015 में इंडियन आइडल जूनियर में नाहिद की सिंगिंग को जबरदस्त सराहा गया था। नाहिद की सिंगिंग से सोनाक्षी सिन्हा इतनी इम्प्रेस हुई थी कि उन्होंने शो में नाहिद को परदे पर अपनी आवाज़ बनाने का वादा किया था और बाद में नाहिद ने सोनाक्षी की फिल्म अकीरा में गाना भी गाया था

असम की उभरती सिंगर और 'इंडियन आइडल जूनियर' की रनर अप नाहिद आफरीन को गाने और स्टेज पर परफॉर्म करने से रोकने के लिए 46 मौलानाओं द्वारा जारी किए गए फतवे का जमकर विरोध हो रहा है। इसी कड़ी में अब सलमान खान के पिता और जाने-माने राइटर-फिल्ममेकर सलीम खान भी नाहिद के सपॉर्ट में आगे आए हैं। उन्होंने कहा है कि इस तरह के कथित धर्मगुरुओं की ऐसी हरकतों वजह से इस्लाम के फॉलोअर्स को बहुत शर्मिंदगी झेलनी पड़ती है। 

इस बीच असम के एक और मशहूर सिंगर पापोन ने भी नाहिद अफरीना का समर्थन किया है। पापोन ने ट्वीट किया, ‘नाहिद अफरीन को निशाना बनाने वाले लोग आगामी पीढ़ी का भरोसा खो रहे हैं और एक उदासीन और ठंडी प्रतिक्रिया देने वाली पीढ़ी तैयार कर रहे हैं! यह अनुचित है।’ आफरीन 2015 में ‘इंडियन आइडल जूनियर’ में उपविजेता रही थीं। नाहिद ने सोनाक्षी सिन्हा की फिल्म ‘अकीरा’ से बॉलिवुड में बतौर प्लेबैक सिंगर अपने करियर की शुरुआत की है। हालांकि इन फतवों के जवाब में नाहिद यह साफ कर चुकी हैं कि वह इससे नहीं डरतीं हैं। वह ताउम्र गाती रहेंगी और कार्यक्रम पेश करती रहेंगी।
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

Post a Comment