फिल्म बाबरी मस्जिद पर CBFC ने लगाया प्रतिबंध

पटना। भोजपुरी सुपरस्टार खेसारीलाल यादव की फिल्म 'बाबरी मस्जिद' इन दिनों फिर सुर्खियों में है। दरअसल, फिल्म के कंटेंट को लेकर सेंसर बोर्ड (सीबीएफसी) ने उंगली उठाई है। सेंसर बोर्ड के एक सोर्स के हवाले से कहा गया है कि इस फिल्म की वजह से कम्युनल (सांप्रदायिक) भावना भड़कने का खतरा न सिर्फ यूपी बल्कि पूरे देश में है। ऐसा पहली बार है जब सेंसर बोर्ड ने किसी भोजपुरी फिल्म को सर्टिफिकेट देने से इनकार करते हुए उसे बैन किया है।

इस फिल्म में खेसारी लाल के अलावा काजल राघवानी, अवधेश मिश्रा, संजय पांडेय, बृजेश त्रिपाठी, त्रिशा खान और संभावना सेठ जैसे कलाकार हैं। फिल्म के प्रोड्यूसर धीरेन्द्र चौबे, जबकि डायरेक्टर देव पांडे हैं। फिल्म में संभावना सेठ का एक आइटम नंबर भी है।

बाबरी मस्जिद का मुद्दा फिलहाल गर्म है, लेकिन इस मुद्दे की आंच भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार खेसारीलाल यादव को झेलनी पड़ रही है। फिल्म समीक्षक सुभाष के झा के अनुसार, सेंसर बोर्ड से सर्टिफिकेट न पाने वाली यह पहली भोजपुरी फिल्म है।

सूत्रों के मुताबिक, इस फिल्म की वजह से सांप्रदायिक भावना भड़कने का खतरा है. सेंसर बोर्ड के सूत्रों का कहना है कि फिल्म में अधकचरे विषयवस्तु को बाबरी मस्जिद जैसे संवेदनशील मुद्दे से जोड़ा गया है। हालांकि फिल्म के निर्माताओं ने फिल्म को मंजूरी देने का अनुरोध करते हुए सफाई दी है कि फिल्म तो बस एक लव स्टोरी है।

इस फिल्म में खेसारी लाल के अलावा काजल राघवानी, अवधेश मिश्रा, संजय पांडेय, बृजेश त्रिपाठी, त्रिशा खान और संभावना सेठ जैसे कलाकार हैं। फिल्म के प्रोड्यूसर धीरेन्द्र चौबे, जबकि डायरेक्टर देव पांडे हैं, फिल्म में संभावना सेठ का एक आइटम नंबर भी है।
Tags

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top